प्रलयकारी बाढ़ का प्रकोप जारी , राहत बचाव कार्य में जुटे सेना के जवान

मोतिहारी: पूर्वी चम्पारण में पिछले आठ दिनों से जारी प्रलयकारी बाढ़ का प्रकोप घटने का नाम नहीं ले रहा है. बाढ़ का पानी नये इलाकों में फैलते ही जा रहा है, जिले के 27 प्रखंडों में 21 प्रखंड बाढ़ से प्रभावित हो गया है. बाढ़ पीड़ितों की संख्या भी काफी बढ़ गयी है, यह संख्या अब 17 लाख तक पहुंच गयी है. बाढ़ से सबसे अधिक प्रभावित बंजरिया और सुगौली प्रखंड है जहां के सभी गांव पूर्णरुप से बाढ़ की चपेट में है, वहीं गांव टापू बन गया है, अघिकांश घरों में पानी ही पानी है.

vlcsnap-2017-08-20-17h00m38s1 vlcsnap-2017-08-20-17h01m00s222

ऐसे में बाढ पीड़ितों की सहायता के लिए जिला को सेना के हवाले किया गया है. सेना के चार टुकड़िया राहत और बचाव का कार्य कर रही है, वहीं भारतीय वायु सेना के दो हेलिकॉप्टर टापूनुमा गांवों में राहत सामग्री गिरा रहे हैं. जहां पिछले आठ दिनों से लोग फंसे हुए है, वहां एनडीआऱएफ और सेना के जवान लोगों को निकालने में लगे हुए है. हेलिकॉप्टर से आज तीन टन खाद्य सामग्री बंजरिया और सुगौली प्रखंड के गांवों में गिराये गये. जबकि अन्य श्रोतों से भी जिला प्रशासन राहत सामग्री भेज रही है.

About

You may also like...

Your email will not be published. Name and Email fields are required