सुराज ही लोगों को जन्म सिद्ध अधिकार है: मंत्री सुदर्शन भगत

रांची : केंद्र सरकार के जनजातीय मामलों के राज्य मंत्री सुदर्शन भगत ने कहा है कि स्वराज नारा हमारी आजादी के लिए था. आज का नया नारा सुराज है. सुराज ही लोगों को जन्म सिद्ध अधिकार है. इसे पूरा करने में केंद्र सरकार लगी हुई है. श्री भगत शुक्रवार को सीसीएल के गांधीनगर मैदान में संसदीय लोकतंत्र के 70 साल पूरा होने के मौके पर आयोजित संगोष्ठी और सांस्कृतिक कार्यक्रम में बोल रहे थे. कार्यक्रम पांच दिनों तक चलेगा. वहां प्रदर्शनी भी लगायी गयी है.
 2017_9$largeimg09_Sep_2017_091337447
श्री भगत ने कहा कि 2022 तक देश से गरीबी मिटाने के संकल्प के साथ भारत सरकार काम कर रही है. इसी कड़ी में पिछले तीन साल में 2.5 करोड़ बीपीएल परिवार को गैस के कनेक्शन दिये गये. दो करोड़ के अधिक नये शौचालय का निर्माण कराया गया. वहीं नोटबंदी के कारण चालू साल में एक अप्रैल से पांच अगस्त तक 56 लाख व्यक्तिगत करदाता सामने आये. पिछले साल तक यह संख्या करीब 22 लाख  थी. केंद्र की सरकार ने 28 साल पुरानी बेनामी संपत्ति के कानून को लागू किया. इससे 800 करोड़ रुपये की बेनामी संपत्ति जब्त की गयी.
विकास में भागीदार बन रहा है सीसीएल
सीसीएल के निदेशक कार्मिक आरएस महापात्र ने कहा कि जिस तरह आजादी बहुत मेहनत से मिली थी, उसी तरह विकसित देश बनाने के लिए मेहनत करनी होगी. देश के विकास का भागीदार सीसीएल भी बना हुआ है. कंपनी 2024 के ओलंपिक में मेडल दिलाने के लिए विद्यार्थी तैयार कर रहा है. 2021 तक हर घर में बिजली पहुंचायी जायेगी.
इसमें भी सीसीएल सहयोग कर रहा है. कंपनी ने 11800 टॉयलेट का निर्माण कराया है. जिलों को ओडीएफ करने के लिए भी कंपनी ने राज्य सरकार को 24 करोड़ रुपये दिया है. बीपीएल अस्पताल, ओल्ड एज होम के साथ-साथ प्रशिक्षण के कई कार्यक्रम चलाये जा रहे हैं. इस मौके पर सांस्कृतिक कार्यक्रमों का भी आयोजन किया गया. समारोह में कंपनी के निदेशक वित्त डीके घोष, निदेशक तकनीक एके मिश्र भी मौजूद थे.

About

You may also like...

Your email will not be published. Name and Email fields are required