बरहरवा में थाना परिसर में युवक की मौत, आक्रोशित हुए ग्रामीण, एनएच-80 जाम

साहेबगंज( बरहरवा ) : साहेबगंज जिले के बरहरवा थाने में एक युवक तवारक शेख ऊर्फ डग्गू की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गयी, जिसके बाद उसके परिवार वालों व ग्रामीणों ने जमकर हंगामा किया. तवारक के परिवार वालों का आरोप है कि उसकी हत्या की गयी है, जबकि पुलिस का कहना है कि उसने थाने में सिरिस्ता में फांसी लगा कर आत्महत्या कर ली. तवारक ऑटो चलाता था और उसे एक मोरटसाइकिल चोर की निशानदेही पर पूछताछ के लिए थाना लाया गया था. एक दिन पहले पुलिस ने एक मोटरसाइकिल चोर को पकड़ा था.

2017_9$largeimg13_Sep_2017_153803300

डीएसपी ललन प्रसाद ने मामले पर पुलिस का पक्ष रखते हुए कहा, पंखे से लटक कर उन्होंने आत्महत्या कर ली है. उनके शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. दूसरी तरफ परिवार वाले इसे हत्या करार दे रहे हैं. उनका कहना है कि तवारक के साथ मारपीट की गयी. पुलिस वालों ने उनकी जान ले ली और अब पुलिस वाले इसे आत्महत्या साबित करने में लगे हैं. इस घटना के बाद थाना छावनी में तब्दील हो गया.

परिजनों ने क्या कहा

तवारक की हत्या के बाद उन्हें रस्सी के सहारे लटकाया गया और लोगों को यह दिखाने की कोशिश की गयी है कि यह आत्महत्या है. घटना के बाद लोगों ने एनएन – 80 को जाम कर दिया. यह महत्वपूर्ण राजमार्ग है, जो फरक्का, साहेबगंज, भागलपुर को जोड़ता है. लगभग चार घंटे रोड जाम रहा. इस दौरान आगजनी भी की गयी.

Devghar 1

इस मामले ने  राजनीतिक स्वरूप भी ले लिया है. झारखंड कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आलमगीर आलम ने कहा है कि पीड़ितों को सरकार 10 लाख रुपये का मुआवजा दे और मामले की उच्च स्तरीय जांच करायी जाये. वहीं, राजमहल से झामुमो सांसद विजय हांसदा ने कहा है कि 48 घंटे के अंदर इस मामले में उचित कार्रवाई की जाये. पीड़ित परिवार को सरकारी नौकरी दी जाये और उचित मुआवजा भी दिया जाये. उन्होंने चेतावनी दी कि अगर ऐसा नहीं किया गया तो झामुमो सड़क पर उतर कर आंदोलन करेगा.

About

You may also like...

Your email will not be published. Name and Email fields are required